बेमतलब

बेमतलब सी दुनिया । बेमतलब से रिश्ते ।ईस बेमतलब की दुनिया में मतलब बहुत है।

Advertisements

खोज

अभी भी दिल को बहला लो कि दिल की खोज बाकी है 

साथ

जब मुहब्बत और नफ़रत साथ चले तो अकसर हम भूल जाते है कि क्या याद रखे क्या नहीं ।

Talaash

तुम्हें ढूँढते ढूँढते ख़ुद को ही खो दिया । फिर अपनी दुआओं में तुम्हें पिरो लिया ।